Sunday, 18 March 2018

Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )

Best of shayari presents indirect propose shayari it means you will not say I love you but your partner will understand the meaning of your shayari that is I love you. 
Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )




I Describe you in more detail in this Classic Hindi shayari we are going to share some of the best Ghalib shayari about love you can also call it indirect propose shayari it is one of the most romantic shayari in Hindi ever .
Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )

Sometimes you are very shy or your girlfriend is very shy and you hesitate in saying I love you to her that is why at that point of need some word or Shayari that will do the job for you that is why we call it is I love you shayari in Hindi
Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )

You can also send this when you are about to sleep or she is about to wake up in the good morning, so you can also call it good morning shayari in Hindi so overall motive is if you love a person but shy to express then these Hindi shayari is perfect option for you.

Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )

जो उनकी आँखों से बयान होते हैं,
वो लफ्ज़ शायरी में कहाँ होते हैं!


तुझ पे उठती है वो खोई हुई साहिर आँखें;
तुझ को मालूम है क्यों उमर गवा दी हुँने!


पलकों की ज़ंजीरो में तेरी तस्वीर छुपाई
हाथों की लकीरों में तेरी तक़दीर सजाई!


तेरे दिल को जो ना एहसास हो पाए,
तो दिल की बातें दिल में तड़पने देंगे;
अब ना किसी के हो पाएँगे तेरे सिवा,
पर अपना दिल तेरे लिए धड़कने देंगे!


आज देखा है तुझ को देर के बाद;
आज का दिन गुज़र ना जाए कहीं!


हर एक पहलु तेरा  मेरे दिल में आबाद  हो जाए,
तुझे में इस कदर देखू मुझे तू याद हो जाए
Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )
Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )


दाग इतराए हुए फिरते  हैं आज;
शायद उनकी आबरू होने लगी!


खुदी वो बहार है जिस का कोई किनारा नहीं;
तू आबजू उससे समझा अगर तो चारा नहीं!


मुंतज़ीर किस का हूँ टूटी हुई दहलीज़ पे मैं;
कौन आएगा यहाँ कोई है आने वाला!


कल जो था आज वो मिज़ाज़ नही;
इश्स तालवऊन का कुछ इलाज़ नही!

If you like our Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे ) than here we have more than 300 types of shayari.



Related Posts

Indirect Propose Shayari (शायरी जो बिना कहे प्यार का इज़हार करे )
4/ 5
Oleh