Wednesday, 21 August 2019

बेचारी मछली को दो पैर वाला सांप समझकर उसकी पूजा-अर्चना शुरू कर दी, भारत के एक गांव की घटना

हाल ही में भारत में एक ऐसी घटना हुई जिससे फिर कुछ लोगों को कहने का मौका मिल गया कि भारत के लोग बेहद अंधविश्वासी होते हैं बकरी आज इस लेख में आप जानेंगे कि कैसे एक मछली को लोगों ने सांप समझ लिया और उसकी पूजा-अर्चना शुरू कर दी बकरी



यह घटना सभी छपरा गांव में हुई थी जहां पर श्रीनाथ गिरी का एक परिवार रहता है इसके अलावा वहां पर ऐसे लोग भी रहते हैं जो मांसाहार का सेवन करते हैं बकरी कुछ दिन पहले उन लोगों को श्रीनाथ गिरी के घर के पास एक मछली का कंकाल मिला मछली का आकार काफी लंबा था तथा उसके दो पंख भी थे परंतु वह कुछ सांप जैसी दिखाई दे रही थी बस फिर क्या था लोगों ने कहना शुरू कर दिया कि यह तो 2 पैर वाली सांप है बकरी

उसके कंकाल को देखकर स्पष्ट नजर आ रहा था कि यह किसी की साजिश है परंतु लोग शरारती तत्वों की साजिश को समझ नहीं सके तथा उसे दो पैर वाला सांप समझने की गलती कर बैठे बकरी कुछ लोगों ने कहा कि इसे जला दो तो कुछ लोगों ने उसकी पूजा-अर्चना शुरू कर दी उसे धर्म से जोड़ना शुरु कर दिया तथा देखते ही देखते यह बात पूरे गांव में फैल गई फिर क्या था लोगों का आना शुरू हो गया और श्रीनाथ गिरी जी फेमस हो गए .

देखिए किस तरह से एक मछली के कंकाल ने सभी छपरा गांव को भी काफी फेमस कर दिया और जिस व्यक्ति के घर के पास या कंकाल मिला वह भी काफी फेमस हो गया.

अब इसका समाधान तो तभी हो सकता है जब वैज्ञानिकों की एक टीम जाए तथा उस कंकाल की जांच करें तो ही स्पष्ट रूप से पता चलेगा कि वह किस प्रजाति की मछली है परंतु यदि आप उसकी तस्वीर देखेंगे तो आपको भी ऐसा ही लगेगा कि यह कोई मछली नहीं बल्कि दो पैर वाला सांप है.




Related Posts

बेचारी मछली को दो पैर वाला सांप समझकर उसकी पूजा-अर्चना शुरू कर दी, भारत के एक गांव की घटना
4/ 5
Oleh